Logo_new

‘विश्व’ सर्वदा स्थूल पदार्थों का भोक्ता है, ‘तैजस’ सूक्ष्म पदार्थों का भोक्ता है और ‘प्राज्ञ’ आनंद का भोक्ता है।

हरि ऊँ ! 

Menu
WeCreativez WhatsApp Support
व्हाट्सप्प द्वारा हम आपके उत्तर देने क लिए तैयार हे |
हम आपकी कैसे सहायता करे ?